You are here
Home > Editor's Choice > स्टिंग से खुलासा, कश्मीर में पत्थरबाजों को यहां से मिलता है पैसा

स्टिंग से खुलासा, कश्मीर में पत्थरबाजों को यहां से मिलता है पैसा

पाकिस्तान कश्मीर घाटी में गड़बड़ी पैदा करने और युवाओं को उकसाने का काम किस तरह कर रहा है, यह खुलासा एक टीवी चैनल के स्टिंग विडियो से हुआ है। इस विडियो में खुद अलगाववादी संगठन हुर्रियत कॉन्फ्रेंस का एक नेता नईम खान स्वीकार करता दिख रहा है कि कैसे पाकिस्तान हवाला के जरिए फंडिंग करता है।

स्टिंग विडियो में पथराव से लेकर, स्कूलों में आगजनी और विधायक पर हमले को लेकर भी ब़़डे खुलासे सामने आए हैं। स्टिंग में अलगाववादी नेता ने यह बात कबूली है कि पाक से करोड़ों रुपए दुबई और सऊदी के रास्ते कश्मीर भेजे जाते हैं। अलगाववादी नेता से रिपोर्टर ने पैसा देने वाले व्यक्ति के रूप में बात की। रिपोर्टर से मिलने दिल्ली पहुंचे सैयद शाह अली गिलानी की हुर्रियत कॉन्फ्रेंस के नेता नईम खान ने बताया है कि कश्मीर में अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट नहीं होने के कारण बड़ी राशि दिल्ली के बल्लीमारन और चांदनी चौक से हवाला के जरिए आती है।

उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों एक और स्टिंग में इस बात का खुलासा हुआ था कि पाकिस्तान कश्मीर के पत्थरबाजों को कैशलेस फंडिंग कर रहा है । एक चैनल ने खुफिया सूत्रों के हवाले से दावा किया था कि पाकिस्तान इन पत्थरबाजों को पैसा देने के लिए उसी वस्तु विनिमय प्रणाली का सहारा ले रहा है, जिसके जरिए लोग पहले व्यापार करते थे। कई ट्रक अक्सर पाक अधिकृत कश्मीर (पीओके) के मुजफ्फराबाद से श्रीनगर में सामान लेकर आते जाते हैं। इन्हीं ट्रकों पर लदे सामान के जरिए पाकिस्तान कश्मीर के पत्थरबाजों को पैसा देता है।

पिछले दिनों घाटी के कई स्कूलों में तोड़फोड़ और आगजनी की घटनाएं सामने आई हैं। नईम के मुताबिक, इसमें अलगाववादियों का हाथ है। नईम ने बताया कि बिना अलगाववादियों के समर्थन के यह काम कोई नहीं कर सकता। उसने यह दावा किया कि अलगाववादियों ने अब तक घाटी में 35 स्कूलों को जलाया।

Source

Comments

comments