You are here
LATEST NEWS POLITICS 

संकट में AAP, एक और विधायक ने फूंका बगावत का बिगुल

दिल्ली की सत्ता पर काबिज आम आदमी पार्टी की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रहीं। पार्टी में बगावत करने वालों और नेतृत्व से नाराज लोगों की संख्या एक के बाद एक लगातार बढ़ती जा रही है। पूर्व पर्यटन मंत्री कपिल मिश्रा हर दूसरे-तीसरे पार्टी और मुख्यमंत्री अरविंद दिल्ली की सत्ता पर काबिज आम आदमी पार्टी की मुसीबतें कम होने का नाम नहीं ले रहीं। पार्टी में बगावत करने वालों और नेतृत्व से नाराज लोगों की संख्या एक के बाद एक लगातार बढ़ती जा रही है। पूर्व पर्यटन मंत्री कपिल मिश्रा हर दूसरे-तीसरे पार्टी और मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ भ्रष्टाचार के सबूत पेश कर रहे हैं। कपिल के आरोपों से पार्टी पहले से ही हलकान है अब एक और विधायक ने मोर्चा खोल दिया है।

आप को एक और झटका, एक और बागी

दिल्ली की तिमारपुर सीट से आम आदमी पार्टी के विधायक पंकज पुष्कर ने इस बार पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोला है। एक तरफ दिल्ली में प्रचंड गर्मी पड़ रही है और दूसरी तरफ राज्य की जनता जल संकट से जूझ रही है। दिल्ली सरकार इस संकट को जल्द सुलझा लेने का दावा भी कर रही है। लेकिन उसके अपने ही विधायक ने दिल्ली के जल संकट को कृत्रिम करार दिया है। उन्होंने इसके लिए किसी और को नहीं बल्कि केजरीवाल सरकार को ही दोषी ठहराया है।

वजीराबाद वाटर प्लांट के बाहर प्रदर्शन

पंकज ने इस मामले में अपने समर्थकों के साथ वजीराबाद वाटर प्लांट के बाहर विरोध प्रदर्शन किया। दिलचस्प बात यह है कि इस प्रदर्शन में पार्टी स्वराज अभियान के पदाधिकारी और कार्यकर्ता शामिल रहे। बता दें कि योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण ने आम आदमी पार्टी से निकाले जाने के बाद स्वराज अभियान का गठन किया था।

पंकज पुष्कर ने बताया कि वजीराबाद प्लांट में चार जल संयंत्र हैं। इनमें से एक रिसाइकलिंग प्लांट है। बचे तीन में दो की क्षमता 40 और तीसरे की क्षमता 44 एमजीडी की है। दो से औसत पानी की आपूर्ति हो रही है। लेकिन तीसरे प्लांट से मात्र 9 एमजीडी पानी की आपूर्ति की गई है। जिसके कारण तिमारपुर, आदर्श नगर, मॉडल टाउन, जहांगीरपुरी व वजीरपुर जैसे दिल्ली के कई इलाकों में पानी का कृत्रिम संकट पैदा हो गया।

…जब कुमार से उठा अमानतुल्लाह का ‘विश्वास’

हाल के दिनों के घटनाक्रम पर नजर डालें तो आम आदमी पार्टी में लगातार उथल-पुथल रही है। सबसे पहले ओखला से पार्टी विधायक अमानतुल्‍लाह खान ने वरिष्ठ नेता और कवि कुमार विश्वास पर गंभीर आरोप लगाए। जिसके बाद कुमार ने पार्टी छोड़ने तक की धमकी दे दी थी। हालांकि बाद में पार्टी ने अमानतुल्ला हो पार्टी से निष्कासित करते हुए कुमार को मना लिया और राजस्थान का प्रभारी भी बना दिया था।

कपिल ने केजरीवाल पर लगाए गंभीर आरोप

कुमार विश्वास प्रकरण के कुछ ही दिन बाद अचानक से पर्यटन मंत्री कपिल मिश्रा को उनके पद से हटा दिया गया। इस मामले के बाद कपिल ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और मंत्री सतेंद्र जैन पर भ्रष्टाचार के गंभीर आरोप लगा डाले। कपिल को पार्टी से निकाल दिया गया, लेकिन इसके बाद कपिल ने अनशन शुरू कर दिया और एक के बाद एक केजरीवाल व AAP के खिलाफ सबूत दिए। हालांकि पार्टी ने कपिल के आरोपों को सिरे से खारिज किया है, लेकिन मुख्यमंत्री केजरीवाल की चुप्पी उनके समर्थकों को भी हैरान कर रही है।

Source

Comments

comments

Loading...

Related posts