You are here
LATEST NEWS POLITICS 

करोड़ रुपये फीस लेने वाले वकील ने कुलभूषण जादव के केस के लिया बस १ रूपया

सुषमा स्वराज ने कहा कि कुलभूषण जाधव मामले की इंटरनेशनल कोर्ट में पैरवी के लिए सीनियर एडवोकेट हरीश साल्वे ने सिर्फ एक रुपए फीस ली है। इंडियन नेवी के पूर्व अफसर जाधव पाकिस्तान की कैद में हैं। उन पर जासूसी के आरोप लगाए गए हैं। पाकिस्तान की आर्मी कोर्ट ने उन्हें फांसी की सजा सुनाई है। इस मामले में भारत की अपील पर इंटरनेशनल कोर्ट में सोमवार से सुनवाई शुरू हुई है। ट्वीट करके दी जानकारी…
– सुषमा ने ट्वीट किया, ठीक नहीं है…हरीश साल्वे ने इस मामले में अपनी फीस के तौर पर हमसे एक रुपए लिए हैं।
– उनका ट्वीट संजीव गोयल नामक एक शख्स के ट्वीट के जवाब में आया है।
– गोयल ने सवाल किया था कि क्या भारत साल्वे से कम फीस लेने वाला कोई अच्छा वकील नहीं कर सकता था।
– जाधव के मामले में साल्वे आईसीजे में भारत की तरफ से वकील हैं।
क्या है मामला?
– पाक की मिलिट्री कोर्ट ने जाधव को जासूसी और देश विरोधी गतिविधियों के आरोप में फांसी की सजा सुनाई है। भारत का कहना है कि जाधव को ईरान से अगवा किया गया था। इंडियन नेवी से रिटायरमेंट के बाद वे ईरान में बिजनेस कर रहे थे।
– हालांकि, पाकिस्तान का दावा है कि जाधव को बलूचिस्तान से 3 मार्च 2016 को अरेस्ट किया गया था। पाकिस्तान ने जाधव पर बलूचिस्तान में अशांति फैलाने और जासूसी का आरोप लगाया है।
– इंटरनेशनल कोर्ट में भारत की तरफ से सीनियर एडवोकेट हरीश साल्वे ने 8 मई को पिटीशन दायर की थी। भारत ने यह मांग की थी कि भारत के पक्ष की मेरिट जांचने से पहले जाधव की फांसी पर रोक लगाई जाए।
18 साल पहले भारत-पाक इंटरनेशनल कोर्ट में थे आमने-सामने
– 10 अगस्त 1999 को इंडियन एयरफोर्स ने गुजरात के कच्छ में पाकिस्तान नेवी के एक एयरक्राफ्ट एटलांटिक को मार गिराया था। इसमें सवार सभी 16 सैनिकों की मौत हो गई थी।
– पाकिस्तान का दावा था कि एयरक्राफ्ट को उसके एयरस्पेस में मार गिराया गया। उसने इस मामले में भारत से 6 करोड़ डाॅलर मुआवजा मांगा था। ICJ की 16 जजों की बेंच ने 21 जून 2000 को 14-2 से पाकिस्तान के दावे को खारिज कर दिया।
Loading...

Related posts